कांग्रेस ने 15 साल पुरानी भाजपा सरकार को पीछे धकेलते हुए सत्ता का वनवास आखिरकार समाप्त कर ही लिया

India News Politics

भोपाल- पंद्रह साल पुरानी भाजपा सरकार को पीछे धकेलते हुए कांग्रेस ने सत्ता का वनवास आखिरकार समाप्त कर ही लिया। कांटे के मुकाबले के बाद कांग्रेस ने भाजपा से पांच सीटों की बढ़त हासिल करते हुए बसपा, सपा और निर्दलीय विधायकों के सहारे सत्ता की राह तलाश ली। चुनाव आयोग की वेबसाइट पर जारी आंकड़ों के मुताबिक कांग्रेस ने 114 सीट, भाजपा ने 109, बसपा ने 2, सपा ने 1 और अन्य ने 4 सीटों पर जीत दर्ज की है।

देर रात प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ ने राज्यपाल आनंदी बेन पटेल को पत्र लिखकर सरकार बनाने का दावा भी पेश कर दिया। बुधवार को पार्टी विधायक दल की भोपाल में बैठक हो रही है, जिसमें नए नेता का चयन किया जाएगा। उधर, भाजपा का मानना है कि कांग्रेस को बहुमत नहीं मिला है।

बुधवार को भाजपा भी राज्यपाल से मिलकर सरकार बनाने का दावा करेगी। मंगलवार को हुई मतगणना में रात बारह बजे तक भाजपा और कांग्रेस दोनों बहुमत से दूर थे। ऐसा पहली बार हो रहा है, जब किसी भी दल को स्पष्ट बहुमत नहीं मिला। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान बुदनी सीट से विजयी हुए, उनके मंत्रिमंडल के एक दर्जन सदस्यों को हार का सामना करना पड़ा।