चौथे दिन मैच का नतीजा निकल आए इसलिए अंपायर्स ने आधे घंटे का खेल और बढ़ाया, लेकिन नतीजा नहीं निकला

India News Sports News

मेलबर्न- भारत के खिलाफ तीसरे टेस्ट में ऑस्ट्रेलिया ने दूसरी पारी में आठ विकेट पर 258 रन बना लिए हैं। उसे जीत के लिए 399 रन का लक्ष्य मिला है। इस हिसाब से उसे जीत के लिए अभी 141 रन और बनाने हैं। वहीं, भारत को जीत के लिए दो विकेट की दरकार है। चौथे दिन भारत की जीत की राह में पैट कमिंस रोड़ा बन गए। उन्होंने इस टेस्ट में न सिर्फ गेंद से अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन किया, बल्कि बल्ले से भी करियर की बेस्ट पारी खेली। कमिंस ने27 रन देकर 6 विकेट लिए और 61 रन की नाबाद पारी खेली। इससे पहले उनका गेंदबाजी में सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन 6/79 और हाइएस्ट स्कोर 50 रन था।

चौथे दिन मैच का नतीजा निकल आए इसलिए अंपायर्स ने आधे घंटे का खेल और बढ़ाया। जिस समय यह फैसला लिया गया उस वक्त ऑस्ट्रेलिया ने 77 ओवर में आठ विकेट पर 229 रन बना लिए थे। इसके बाद आठ ओवर और फेंके गए, लेकिन भारतीय गेंदबाज पैट कमिंस और नाथन लियोन की जोड़ी को तोड़ नहीं पाए।

पहला विकेट : जसप्रीत बुमराह ने अपने पहले ओवर की पहली गेंद पर एरॉन फिंच के खिलाफ एलबीडब्ल्यू की जोरदार अपील की, लेकिन अंपायर ने आउट नहीं दिया। बुमराह ने भी रिव्यू नहीं लिया। उन्होंने अगली गेंद पर फिंच को दूसरी स्लिप में खड़े विराट कोहली के हाथों कैच आउट करा दिया।

दूसरा विकेट : पारी के 10वें ओवर की दूसरी गेंद पर जडेजा ने मार्क्स हैरिस का विकेट लिया। हैरिस इस गेंद को बैट और पैड के सहारे खेलना चाहते थे, लेकिन गेंद उछल गई और शॉर्ट लेग पर खड़े मयंक ने उसे पकड़ने में कोई गलती नहीं की।

तीसरा विकेट : 21वें ओवर की आखिरी गेंद पर मोहम्मद शमी ने एलबीडब्ल्यू की अपील की और अंपायर ने ख्वाजा को आउट दे दिया, लेकिन ख्वाजा ने उनके फैसले पर भरोसा नहीं जताते हुए डीआरएस ले लिया। हालांकि, रिव्यू में ख्वाजा आउट ही करार दिए गए।

चौथा विकेट : 33वें ओवर की दूसरी गेंद पर बुमराह ने एलबीडब्ल्यू की अपील की, लेकिन मार्श ने डीआरएस ले लिया। रिव्यू के बाद अंपायर ने मार्श को आउट दिया। ऑस्ट्रेलिया के लिए यह बड़ा नुकसान था, क्योंकि मार्श उस समय 44 रन बनाकर खेल रहे थे।

पांचवां विकेट : 40वें ओवर की पहली गेंद पर ऑस्ट्रेलिया को पांचवां झटका लगा। जडेजा की इस गेंद पर मिशेल मार्श ने स्लॉग कर रन बटोरने की कोशिश की, लेकिन गेंद ने टर्न नहीं लिया और शॉर्ट कवर पर खड़े विराट कोहली ने उनका कैच पकड़ लिया।

छठा विकेट : मिशेल मार्श के आउट होने के बाद ऑस्ट्रेलियाई कप्तान टिम पेन क्रीज पर आए। वे ट्रैविस हेड के साथ मिलकर 22 रन ही और जोड़ पाए थे कि इशांत शर्मा ने ऑस्ट्रेलिया को एक और झटका दिया। 51वें ओवर की तीसरी गेंद ऑफ स्टम्प से बाहर जा रही थी। हेड ने कवर ड्राइव लगाने की कोशिश की, लेकिन गेंद उनका विकेट ले उड़ी।

सातवां विकेट : भारत को सातवीं सफलता रविंद्र जडेजा ने दिलाई। 62वें ओवर की तीसरी गेंद थोड़ी नीचे रही। पेन ने कट करने की कोशिश की, लेकिन गेंद उनके बल्ले के निचले हिस्से टकराई और विकेट के पीछे खड़े ऋषभ पंत ने उसे पकड़ने में कोई चूक नहीं की। पेन ने 67 गेंद में 26 रन बनाए।

आठवां विकेट : 71वें ओवर की पांचवीं गेंद पर मिशेल स्टार्क आउट हुए। मोहम्मद शमी की इस गुड लेंथ गेंद को स्टार्क खेलने से चूक गए और गेंद उनका विकेट ले उड़ी। स्टार्क ने 18 रन बनाए। उन्होंने पैट कमिंस के साथ मिलकर 39 रन जोड़े। यह इस पारी की दूसरी सबसे बड़ी साझेदारी थी।