India vs South Africa 2nd Test Day 2: मयंक के बाद कोहली का धमाल, भारत 300 रन के पार

India News Sports News

भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच तीन टेस्ट की सीरीज का दूसरा मैच पुणे में खेला जा रहा है। टेस्ट के दूसरे दिन शुक्रवार को भारत के विराट कोहली और अजिंक्य रहाणे क्रीज पर हैं। दोनों ने चौथे विकेट के लिए शतकीय साझेदारी की। कोहली और रहाणे के बीच यह किसी भी विकेट के लिए 10वीं शतकीय साझेदारी है। इससे पहले मैच के पहले दिन भारत ने तीन विकेट पर 273 रन बना लिए थे।

मयंक अग्रवाल ने लगातार दूसरा शतक लगाते हुए 108 रन की पारी खेली। उन्होंने पिछले टेस्ट में 215 रन बनाए थे। मयंक दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ लगातार दो शतक लगाने वाले दूसरे ओपनर हैं। इससे पहले वीरेंद्र सहवाग ने 2010 में दो टेस्ट की सीरीज में ऐसा किया था। उन्होंने नागपुर में 109 और कोलकाता में 165 रन की पारी खेली थी।

पहले बल्लेबाजी करने उतरी भारत ने धीमी शुरुआत की. शुरुआत में गेंद हरकतें कर रही थी और इसी कारण दोनों सलामी बल्लेबाज रोहित शर्मा और मयंक अग्रवाल संभल कर खेल रहे थे. कैगिसो रबाडा की एक ऐसी ही गेंद रोहित के बल्ले का बाहरी किनारा लेकर विकेटकीपर क्विंटन डि कॉक के हाथों में चली गई.

रोहित ने 35 गेंदों का सामना किया और सिर्फ एक चौका मारा. रोहित 14 रन बनाकर आउट हो गए. कैगिसो रबाडा ने ही चेतेश्वर पुजारा (58) को आउट कर भारत को दूसरा झटका दे दिया. आउट होने से पहले पुजारा ने मयंक के साथ दूसरे विकेट के लिए 138 रनों की साझेदारी की. पुजारा ने 112 गेंदों पर नौ चौकों की मदद से 58 रन बनाए.

रबाडा की एक बेहतरीन आउटस्विंगर पुजारा के बल्ले से बाहरी किनारा लेकर स्लिप में गई जहां कप्तान फाफ डु प्लेसिस ने अच्छा कैच पकड़ा. अग्रवाल अपने करियर का दूसरा शतक पूरा करने में कामयाब रहे, लेकिन वह ज्यादा देर तक कोहली का साथ नहीं निभा पाए. अग्रवाल का विकेट भी रबाडा ने चटकाया. रबाडा ने अग्रवाल को 108 रनों के निजी स्कोर पर फाफ डु प्लेसिस के हाथों कैच आउट कराया.

टीम इंडिया ने जीता टॉस

टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी का फैसला किया और मेजबान अफ्रीका को गेंदबाजी सौंपी. टीम इंडिया में एक बदलाव हुआ है. हनुमा विहारी की जगह उमेश यादव को प्लेइंग इलेवन में मौका दिया गया है. वहीं साउथ अफ्रीका ने डेन पीट की जगह एरिक नॉर्टजे को अंतिम 11 में शामिल किया है.

यह टेस्ट मैच विराट कोहली का बतौर कप्तान 50वां टेस्ट मैच है. वह ऐसा करने वाले भारत के दूसरे कप्तान हैं. उनसे पहले महेंद्र सिंह धोनी ने भारत के लिए 50 से ज्यादा टेस्ट मैचों में कप्तानी की है.